News Flash: चित्रकोट विधानसभा उप निर्वाचन-2019,नाम निर्देेशन पत्रों की संवीक्षा में दो उम्मीदवारों का नाम निर्देशन पत्र निरस्त अब सात उम्मीदवार शेष  ||   सोशल मीडिया अकाउंट को आधार से जोड़ने की मांग(लक्ष्मी)  ||   छात्रा से यौन शोषण का आरोपी चिन्मयानंद गिरफ्तार, पूछताछ में बोला- मैं शर्मिंदा हूं(लक्ष्मी)  ||    जानिए बड़ौदा विधानसभा सीट के बारे में(लक्ष्मी)  ||   पाकिस्तान की ओर से राजस्थान में टिड्डी दलों के हमले की आशंका, चार जिले निशाने पर(लक्ष्मी)  ||   राजस्थान में तीन लोगों ने किया 15 साल की लड़की का रेप, आरोपी गिरफ्तार(लक्ष्मी)  ||   राजस्थान का बदला लेंगी मायावती? बसपा के आक्रामक तेवर से कांग्रेस की धड़कनें तेज(लक्ष्मी)    ||   पैसा, पैरवी और पावर वाले विधायक को बचाने में लगी सरकार''(लक्ष्मी)  ||    दारोगा बहाली आदेश को चुनौती देगी राज्य सरकार (लक्ष्मी)  ||   छात्रा के साथ मौलाना ने किया था रेप, मिली ये सजा(लक्ष्मी)  ||  

बढ़ती जा रही पूर्व सीएम की मुश्किलें दामाद के बाद अब बेटे पर भी दर्ज हो सकती है एफआईआर,[सीमा]  

08 Apr 2019 12:14pm | Indian News Service

राजनांदगांव,




पूर्व सांसद अभिषेक सिंह के खिलाफ आज लोगों ने एफआईआर दर्ज करने की मांग को करते हुए थाने में प्रदर्शन किया। उन पर आरोप है कि उन्होंने सांसद रहते हुए एक ऐसी चिटफंड कंपनी को प्रमोट किया जो 1 लाख निवेशकों के 400 करोड़ रुपए से ज्यादा लेकर फरार हो गए है। शिकायतकर्ताओं के मुताबिक ये कंपनी नागपुर के जुनैद मेमन और जावेद मेमन की थी। इसकी शिकायत छत्तीसगढ़ अभिकर्ता एवं उपभोक्ता सेवा संघ द्वारा की गई। उन्होंने इस मांग को लेकर राजनांदगांव के सिटी कोतवाली थाने का घेराव भी किया। इतना ही नहीं रमन सिंह पर भी संघ ने आरोप लगाए है कि उन्होंने कवर्धा में लगे रोजगार मेले में कोलकाता वेयर इंडस्ट्रीज में स्टॉल लगाने की अनुमित दिलाई थी।
इस रोजगार मेले का उद्घाटन डॉ रमन सिंह द्वारा किया गया था, जिससे प्रभावित होकर लोगों ने इस कंपनी में निवेश किया और अब उस स्टॉल में काम करने वाले लोग जेल में है और उद्घाटन करने वाले जेल के बाहर। यही कारण है कि संघ ने रोजगार मेले का उद्घाटन करने वाले रमन सिंह के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।



दामाद के बाद अब बेटे पर भी दर्ज हो सकती है एफआईआर, बढ़ती जा रही पूर्व सीएम की मुश्किलें



ताजा समाचार



  • Follow us:
.