News Flash:   रायपुरः भाजपा की मुश्किल, एक दर्जन सीट पर दागी दावेदार ठोक रहे ताल  [प]   ||   भोपालः सीरियल किलर मामला: खांबरा तंत्र क्रिया के लिए महीनों घर से रहता था गायब  [प]   ||   इंदौरः इंदौर के खाने खजाने ने शहर को दिलाया 10 करोड़ का अनुदान  [प]   ||     इंदौरः   पिछले साल गिलहरी ने दिए बच्चे तो इस साल बनाए 'गिलहरी गणेश' [प]   ||   इंदौरः  बुजुर्गों- छात्रों को सलाह नहीं दे पाएंगी निवेश कंपनियां [प]  ||   दिल्ली के मोरी गेट इलाके में गोदाम में आग लगने से 1 की मौत, 1 गंभीर रूप से घायल  ||   बीजापुर: एक स्थायी वारंटी नक्सली गिरफ्तार  ||   बलौदाबाजार: हॉटल संचालक के घर से 242 लीटर अवैध डीजल जब्त  ||     बिलासपुर: 67 पुलिस अधिकारियों सहित कर्मचारियों का तबादला आदेश जारी   ||   रायपुर : विकास की जगह गिरीश दुबे बने नए कांग्रेस जिला अध्यक्ष    ||  

     जैसलमेरः  दुकान के आगे सड़क पर वर्षों से लगा केबिन हटाया

12 Jan 2018 05:43pm |

 जैसलमेरः



आमजन की समस्याओं का समाधान कराने के लिए राज्य सरकार के निर्देशानुसार माह के द्वितीय गुरुवार को जिला कलेक्टर जैसलमेर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय जनसुनवाई व जन अभाव अभियोग निराकरण एवं सतर्कता समिति की बैठक होती है। जिला स्तरीय जनसुनवाई से परिवादियों को बड़ी राहत भी मिलती है। उल्लेखनीय है कि जैसलमेर भाटिया पाड़ा निवासी अनिता भाटिया व गिरधर भाटिया के लिए तो जिलास्तरीय जन सुनवाई राहतदायी सिद्ध हुई एवं उसकी गोपा चौक स्थित दुकान के आगे नगर परिषद की सड़क पर वर्षा से अवैध रूप से संचालित केबिन हट गया।



परिवादी भाटिया ने उसकी गोपा चौक स्थित दुकान के आगे अवैध रूप से संचालित केबिन को हटाने एवं दुकान के किए इस सड़क को अतिक्रमण मुक्त कराने के संबंध में 8 सितम्बर 2016 को परिवाद दर्ज कराया, लेकिन किसी कारण से राहत नहीं मिली एवं यह प्रकरण चलता रहा। जिला कलेक्टर कैलाश चन्द मीना की जिला स्तरीय जनसुनवाई एवं सतर्कता समिति में परिवादी भाटिया ने फरियाद बताई और केबिन को हटाने की प्रार्थना की।



जिला कलेक्टर ने इस प्रकरण को गंभीरता से लिया एवं आयुक्त नगर परिषद को इसकी मौके पर जाकर जांच कर वास्तविक रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए। समिति सदस्य कमल ओझा ने कहा कि भाटिया की दुकान के आगे केबिन अवैध है। जिला कलेक्टर के निर्देशों पर नगर परिषद प्रशासन ने मौके पर जांच की तो पाया कि भाटिया की दुकान के आगे संचालित केबिन अवैध है और सड़क पर अतिक्रमण के रूप में है।

ताजा समाचार



  • Follow us: