News Flash: नई दिल्लीःइंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आतंकी हमले की अफवाह से अफरातफरी[न]   ||   अटल जी की पुत्री नमिता भट्टाचार्य ने दी मुखाग्नि  [भ]   ||   रायपुरः  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी को शनिवार के आडिटोरियम में दी जाएगी श्रद्धांजलि [भ]   ||   आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने पूर्व पीएम अटल वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि [भ]     ||   प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि [भ]  ||   ग्‍वालियरःवाजपेयी की चिंताजनक हालत पर परिजन समेत रो रहा देश[न]   ||   श्रीनगरःउत्तरी कश्मीर के नौगाम (हंदवाड़ा) सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, चार जवान जख्मी[न]   ||   नई दिल्लीः जहरीले लाल शैवाल बने समुद्री जीवों की मौत का कारण[न]   ||     कर्नाटक: भारी बारिश से बिगड़े हालात, मकान गिरने से तीन की मौत[न]  ||     जांजगीर-चांपा जिले में अब तक 688.6 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज  ||  

राजधानी और मेल एक्सप्रेस ट्रेनों में सुरक्षित नहीं महिलाएं[प]

24 May 2018 04:07pm |

रतलामः

रेलवे द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने सहित अन्य सुरक्षा इंतजामों की घोषणाएं की गई। राजधानी एवं मेल एक्सप्रेस में महिलाओं के साथ चोरी तथा छेड़छाड़ की बढ़ती घटना ने परिजनों की चिंता बढ़ा दी है। इस वजह से महिलाओं का इन ट्रेनों में सफर करना मुश्किल होने लगा है। खास बात यह है कि एक्सप्रेस तथा मेल एक्सपे्रस ट्रेनों में आरपीएफ जवानों की ड्यूटियां रहती है। इसके बावजूद घटनाओं के दौरान उन्हें तुरंत सहायता नहीं मिलती है। वहीं राजधानी एक्सप्रेस में कई बार महिलाओं से अभद्रता के मामले सामने आए हैं।

हैरत की बात यह भी है कि रेल मंडल में हर बड़े स्टेशन पर जीआरपी थाने तथा आरपीएफ पोस्ट है। इन स्टेशनों पर दर्जनों सुरक्षाबलों की तैनाती रहती है। चोरी के बाद पीड़ित यात्री शिकायत के लिए जीआरपी थाने पहुंच रही। वहां प्रारंभिक तौर पर उनकी सुनवाई नहीं की जा रही है। मालूम हो कि रतलाम मंडल से जुड़ी कई मामले पिछले दिनों संज्ञान में आए है। इसमें आरपीएफ को मैसेज किया या फिर फरियादी स्वयं चलकर थाने पहुंची जबकि उन्हें चलती ट्रेन में सुरक्षा नहीं मिल सकी है।

ट्रेन में चोरी के बाद घंटों परेशानी

महिलाओं की थानों पर सुनवाई नहीं होना आम बात होने लगी है। शहरवासी नितिन माहेश्वरी ने कहा कि पत्नी योगिता माहेश्वरी 22 मई 2018 को रतलाम से विदिशा के लिए ट्रेन संख्या 11465 सोमनाथ-जबलपुर एक्सप्रेस के आरक्षित कोच में सवार हुई। ट्रेन एक बजे रवाना होकर 3 बजे उज्जैन पहुंची। तभी 4 बजे के आसपास किसी ने उसका पर्स चुरा लिया। उसमें आभूषण, नगदी एवं मोबाइली था। पत्नी ने रतलाम में सूचना दी। इसके बाद हम रतलाम जीआरपी थाने पहुंचे। लेकिन वहां चोरी की रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी की गई। लगातार मामले टालने पर शिकायत ट्वीट कर दी। तब जाकर अधिकारी रिपोर्ट लिखने को तैयार हुए।

कोच कंडक्टर द्वारा मैसेज नहीं

ट्रेनों में अधिकांश घटनाओं में अकेली सफर कर रही महिलाएं परिजनों को सूचना देने से पहले कोच कंडक्टर को शिकायत दर्ज कराती है। अधिकांश शिकायत के मामले में वे तवज्जों नहीं देते हैं। ऐसी कई घटनाएं है, जिनमें कोच कंडक्टर को जानकारी देने के बाद भी मौके पर आरपीएफ या जीआरपी जवान नहीं पहुंचे। इसके दीगर महिला या परिजनों द्वारा रेलमंत्री द्वारा शुरू की ट्वीट पर मैसेज का उपयोग करने पर तुरंत सुरक्षा अमला मौके पर पहुंचा है। इधर, राजधानी एक्सप्रेस में भी क्वॉडिंग के बाद भी महिलाएं असुरक्षित है।

महिलाओं के साथ लगातार घटनाएं

- 15 मई 2017-12953 राजधानी एक्सपे्रस में युवक महिला ने ट्वीट कर शिकायत दर्ज कराई कि युवक आपत्तिजनक इशारे कर रहा है। महिला को सहायता नहीं मिली तो रेलमंत्री को ट्वीट किया। मैसेज फारवर्ड होने पर रतलाम में आरपीएफकर्मी ने युवक को दूसरी बर्थ पर बिठाया।

- 7 अगस्त 2017 रात में कंट्रोल से रतलाम में महिला से छेड़छाड़ का मैसेज आया। रेलवे बोर्ड अधिकारी ने ए-1 कोच के ई कैबिन में सवार थे। उनके साथ उसी कैबिन में सवार अन्य महिला यात्री से नशे की हालत में बदसूलकी की। इसके बाद यहां सुरक्षाबल मौके पर पहुंचा।

- 24 जनवरी 2018 रेलवे अधिकारी की पत्नी के साथ राकेश शर्मा ने अभद्रता की। महिला यात्री ने इसकी शिकायत एसी कोच कंडक्टर से की। इसके बाद भी महिला को सहायता नहीं मिलने पर जीआरपी रतलाम में शिकायत दर्ज कराई।



ताजा समाचार



  • Follow us: