News Flash: भारतीय मूल के एक छात्र की हत्या मामले में अमेरिकी व्यक्ति दोषी करार [भ]  ||   वेनेजुएला की राजधानी काराकास के एक नाइटक्लब में शनिवार को मची भगदड़ में 17 लोगों की मौत हो गई. [भ]     ||   असम और त्रिपुरा में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 17 हुई, हालात अब भी बदतर [भ]  ||   नीति आयोग की बैठक में दिल्ली के मुख्यमत्री अरविंद केजरीवाल शामिल नहीं  [भ]  ||     विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इटली, फ्रांस सहित चार देशों की यात्रा पर रवाना हो गई हैं. [भ]  ||    गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री प्रताप सिंह राणे अस्पताल में भर्ती  [भ]  ||   जम्मू-कश्मीर: नौशेरा में पाकिस्तान की ओर से सीजफायर उल्लंघन में सिपाही विकास गुरुंग हुए शहीद [भ]   ||     ब्रिटेन की अदालत से विजय माल्या को झटका, कहा- भारतीय बैंक को 200,000 पाउंड देने को कहा   ||   यूपी और बिहार में सड़क दुर्घटनाओं का कहर, 9 की मौत [भ]  ||   India vs Afghanistan: ऐतिहासिक टेस्‍ट में एक पारी और 262 रन से हारा अफगानिस्‍तान    ||  

नई दिल्लीःकोका कोला का मालिक शिकंजी बेचता था[]

11 Jun 2018 04:57pm |

नई दिल्लीः

राहुल गांधी ने सोमवार को यहां दावा किया कि कोका कोला कंपनी का मालिक पहले शिकंजी बेचता था। वहीं, मैकडोनाल्ड की चेन शुरू करने वाला शख्स ढाबा चलाता था। उन्होंने लोगों से सवाल किया कि भारत में क्या कोई ऐसा ढाबे वाला मिलेगा जिसने कोला कोला कंपनी बनाई हो। उन्होंने यह बात तालकटोरा स्टेडियम में पार्टी के ओबीसी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही।

हिंदुस्तान में हुनर को तवज्जो नहीं

- राहुल ने कहा, "यहां कोई ऐसा व्यक्ति नहीं होगा जिसने कोका कोला कंपनी के बारे में नहीं सुना हो। क्या आपको पता है इसे किसने बनाया। मैं आपको बताता हूं वह कौन था? कोका कोला की शुरुआत करने वाला शख्स अमेरिका में शिकंजी बेचता था। वह पानी में चीनी मिलाकर बेचता था। उसके हुनर को लोगों ने पहचाना, पैसे आए उसने कंपनी शुरू की। इसी तरह से मैकडोनाल्ड कंपनी की शुरुआत एक ढाबा चलाने वाले ने की थी। आप मुझे हिंदुस्तान में वह ढ़ाबे वाला दिखा दो जिसने कोका कोला कंपनी बनाई हो।"

मोदी ने उद्योगपतियों के 2.5 लाख करोड़ माफ किए

राहुल गांधी ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, "मोदी सरकार ने किसानों की कर्ज माफी को अनदेखा किया, लेकिन उन्होंने 15 छोटे उद्योगपतियों का करीब 2.5 लाख करोड़ का लोन माफ कर दिया। लोगों की मेहनत का फायदा दूसरे उठा रहे हैं। जिन लोगों में कौशल है, भारत में उन्हें नतीजा नहीं मिलता। हमारे किसान कठिन परिश्रम करते हैं, लेकिन आप उन्हें कभी मोदी जी के दफ्तर में नहीं देखेंगे। कर्जमाफी सिर्फ उद्योगपतियों के लिए है किसानों के लिए नहीं, जो लगातार आत्महत्या कर रहे हैं, उनके बच्चे रो रहे हैं।"राहुल ने दावा किया कि बैंकों का नॉन परफार्मिंग एसेट (एनपीए) करीब 1000 करोड़ तक पहुंच गया है।


हकीकत यह कि कोका कोला का मालिक फार्मासिस्ट था

 
 

ताजा समाचार



  • Follow us: