News Flash: आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन किया जा रहा है।  ||   बिलासपुर: 13 दिसंबर को होगी नान घोटाला मामले की अगली सुनवाई      ||   बिलासपुर: 13 दिसंबर को होगी नान घोटाला मामले की अगली सुनवाई      ||   धमतरीः कांग्रेस ने 16 लोगों को किया पार्टी से बाहर  ||   छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावः 10 सीटों पर वोटिंग खत्म, 3 बजे तक कुल 41.18 % प्रतिशत मतदान   ||      रायपुरः अमित शाह का शिवरीनारायण में पामगढ़ प्रत्याशी अम्बेश जांगड़े जी के पक्ष में धुंआधार प्रचार     ||   छ.ग.वि.चु.: बस्तर संभाग और राजनांदगांव मे पहले चरण की 10 सीटों पर मतदान बंद    ||   छ.ग. वि.चु. : जगदलपुर मे पहले चरण की 10 सीटों पर मतदान बंद    ||   छत्तीसगढ़ में आज पहले चरण के लिए वोटिंग जारी, 18 सीटों के लिए 192 प्रत्याशी मैदान में   ||   छ.ग. विधानसभा चुनावः चुनाव के दिन भी नक्सलियों का आतंक जारी, दंतेवाड़ा में किया IED ब्लास्ट  ||  

दस दिन अभी और करना होगा मानसून का इंतजार{य}

17 Jun 2018 06:49pm |

जौनपुरः

अभी तक लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिल पा रही है। कारण अभी तक मानसून के आने की कोई आहट नहीं दिख रही है। मौसम के जानकारों की माने तो इस बार मानसून दस दिन देरी से आ सकता है। इससे किसानों को धान व फसल की रोपाई में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि प्री-मानसून से लोगों को राहत हो सकती है।

रविवार को जिले का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम 31 डिग्री सेल्सियस रहा। आद्रता 34 फीसद व हवा 19 किमी प्रति घंटा से रही। हालांकि सुबह तेज धूप के कारण लोगों को निकलने में काफी मुश्किल हुई तो दोपहर तीन बजे के बाद मौसम ने अचानक परिवर्तन ले लिया। जिससे उमड़ते-घुमड़ते बादल के कारण मौसम ठंडा हो गया। इस बाबत टीडी कालेज भूगोल विभागाध्यक्ष डा.राजीव प्रकाश ¨सह ने कहा कि इस बार मानसून के आगमन में दस दिन देरी हो सकती है। फिलहाल दक्षिणी भारत में जमकर बारिश हो रही है।


दूसरी तरफ मानसून मुंबई में आने के बाद अभी तक मैदानी इलाकों की ओर नहीं बढ़ा है। कारण कि जलवायु परिवर्तन के कारण ऐसा नहीं हो सका है। हवा का प्रवाह कमजोर हो गया है। इससे किसानों को फसल व धान की रोपाई में मुश्किलें होंगी। जिस मानसून को लोग निर्धारित समय से तीन दिन पहले आने की कयास लगा रहे थे वह अब 27 जून तक आ सकता है।

 

 

ताजा समाचार



  • Follow us: