News Flash: गेमिंग की लत बच्चों को नुकसान पहुंचा रही है - बलहारा  ||   पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 101 वीं जयंती आज, सोनिया-राहुल ने शक्तिस्थल जाकर किया याद  [प]   ||   आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन किया जा रहा है।  ||   बिलासपुर: 13 दिसंबर को होगी नान घोटाला मामले की अगली सुनवाई      ||   बिलासपुर: 13 दिसंबर को होगी नान घोटाला मामले की अगली सुनवाई      ||   धमतरीः कांग्रेस ने 16 लोगों को किया पार्टी से बाहर  ||   छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावः 10 सीटों पर वोटिंग खत्म, 3 बजे तक कुल 41.18 % प्रतिशत मतदान   ||      रायपुरः अमित शाह का शिवरीनारायण में पामगढ़ प्रत्याशी अम्बेश जांगड़े जी के पक्ष में धुंआधार प्रचार     ||   छ.ग.वि.चु.: बस्तर संभाग और राजनांदगांव मे पहले चरण की 10 सीटों पर मतदान बंद    ||   छ.ग. वि.चु. : जगदलपुर मे पहले चरण की 10 सीटों पर मतदान बंद    ||  

श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के आरोपियों को दुकानें देकर बादलों ने सिख कौम से धोखा किया.[अ]

15 Nov 2018 08:17pm |


 

बठिंडा: 


दरबार-ए-खालसा से मांग की कि एस.जी.पी.सी. की बॉडी को भंग कर नए सिरे से चुनाव करवाए जाएं। दरबार-ए-खालसा के मुख्य सेवादार हरजिंद्र सिंह माझी, गुरजंट सिंह भदौड़, बेअंत सिंह लंडे, लशकार सिंह गाजीआणा, हरबंस सिंह जलाल आदि ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि बादल परिवार की ओर से एस.जी.पी.सी. पर कब्जा कर उसे अपनी निजी जागीर बना लिया है।



उन्होंने कहा कि भगता का में एस.जी.पी.सी. की दुकानें श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के आरोपियों को अलाट कर बादलों ने एक बार फिर सिख कौम से धोखा किया है। उन्होंने कहा कि केवल भगता का में ही नहीं बल्कि और भी कई जगहों पर एस.जी.पी.सी. की जायदादें एक सोची समझी साजिश के तहत डेरा प्रेमियों को दी गई हो सकती हैं।

दशम पिता श्री गुरु गोबिंद सिंह की नकल करने के मामले के बाद डेरा प्रेमियों का सामाजिक बायकाट करने का हुकमनामा जारी किया गया था जिसे पूरी सिख कौम तो मान रही है लेकिन बादल परिवार व एस.जी.पी.सी. इस (हुकमनामे) के खिलाफ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि एस.जी.पी.सी. को बादलों के चुंगल से आजाद करवाने की जरूरत है ताकि सिख कौम अपने फैसले खुद कर सके।


ताजा समाचार



  • Follow us:
.