नई दिल्ली, जेएनएन। नूपुर अलंकार टीवी इंडस्ट्री का जाना-पहचाना नाम है, लेकिन उनके आर्थिक हालात काफी खस्ताहाल हो गए है। यहां तक की नूपुर को अपने सोने-चांदी के गहने बेचकर घर का खर्च चलाना पड़ रहा है। यही नहीं उन्हें अपने साथ कलाकारों और दास्तों से भी उधार और मदद मांगनी पड़ रही है। नूपुर अलंकार ने टीवी शो फुलवा, अगले जनम मुझे बिटिया की कीजो समेत कई मशहूर टीवी शो में काम किया है। नूपुर 100 से ज्यादा फिल्मों और टीवी शो में अभिनय कर चुकी हैं। 

नूपुर ने टीओआई को बताया है कि पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (पीएमसी) कलैप्स होने से उन्हें समस्या हो रही है क्योंकि उनके परिवार के बैंक अकाउंट इसी बैंक में हैं और सभी अकाउंट फ्रीज हो गए हैं। उनकी मां, बहन, पति, ननद और ससुर सभी का अकाउंट फ्रीज है। आरबीआई ने हाल में पीएमसी के खाता धारकों पर कई प्रतिबंध लगाए हैं। इसके तहत एक निश्चित सीमा से ज्यादा रुपये अकाउंट से नहीं निकाए जा सकते हैं। पहले यह सीमा 1000 रुपये थी। फिर इसे 10 हजार रुपये और फिर 25 हजार रुपये कर दिया गया। पर छह महीने में सिर्फ एक बार पैसा निकाया जा सकता है। नूपुर के मुताबिक अब उनके घर में पैसे नहीं बचे हैं।

 

बिना पैसे के कैसे करूं गुजारा

नूपुर का कहना है, बिना पैसे के गुजारा कैसे हो सकता है। क्या मुझे अब अपना घर गिरवी रख देना चाहिए। मेरे अपनी मेहनत से कमाए पैसे को निकालने पर यह पाबंदी क्यों लगी है। मैं खुशी-खुशी इनकम टैक्स देती हूं, फिर मुझे आज समस्या क्यों हो रही है। अभी हाल में एक सर्कुलर आया है कि बच्चों की पढ़ाई और मेडिकल इमरजेंसी में 50 हजार से एक लाख रुपये निकाले जा सकते हैं। पर उससे पहले हमारे परिवार में एक सदस्य बीमार था। हम उसे अस्पताल में नहीं भर्ती करा पाए। हमारे डेबिट और क्रेडिट कॉर्ड भी काम नहीं कर रहे हैं।