यूपी में खदान खुलने से आशियाना बनाने वालों को राहत, बालू और मौरंग की कीमतों में आई कमी

Total Views : 721
Zoom In Zoom Out Read Later Print

सरिया 4800 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़कर पहुंची 5400 में। मौरंग और बालू के दाम में आई कमी। खदान खुलने के बाद अक्टूबर माह से चढ़ रहे भाव कम होने की वजह से आशियाना बनाने वाले लोगों को धीरे-धीरे राहत मिलने लगी। बालू और मौरंग की कीमतें घटती चली गईं।

लखनऊ, जेएनएन। दो माह पहलेे आसमान छू रही भवन सामग्री की कीमतों में कमी आई है लेकिन सरिया में बहुत तेज उछाल आया है। करीब 600 रुपये क्विंटल की तेजी से घर बनवाने वालों और निर्माण कार्यों में जुड़ी एजेंसियों के समक्ष दिक्कतें खड़ी कर दी हैं। बालू, मौरंग, गिट्टी आदि के दामों में भारी कमी दर्ज की गई है।

करीब तीन माह पहले मौरंग की कीमत 85 से 90 रुपये घनफीट और बालू बीस रुपये से बढ़कर 30 रुपये घनफीट की दर तक पहुंच गई थी।

खदान खुलने के बाद अक्टूबर माह से चढ़ रहे भाव कम होने की वजह से आशियाना बनाने वाले लोगों को धीरे-धीरे राहत मिलने लगी। बालू और मौरंग की कीमतें घटती चली गईं। मौजूदा दौर में बालू की घटकर 16 रुपये और मौरंग प्रति घनफीट 52 रुपये तक पहुंच गई है। लेकिन अचानक सरिया में आए उछाल ने भवन निर्माण करा रहे लोगों के समक्ष दिक्कतें पैदा कर दी हैं। करीब छह सौ रुपये प्रति क्विंटल आए उछाल से समस्या खड़ी हो गई है

See More

Latest Photos