कर्नाटक के चामराजनगर की घटना, जान गंवाने वालों में 23 कोरोना मरीज; मैसूर से समय पर नहीं पहुंची सप्लाई-ऑक्सीजन की कमी से 24 की मौत:

Total Views : 68
Zoom In Zoom Out Read Later Print

अधिकारियों का कहना है कि जिन मरीजों की मौत हुई है, वे सभी वेंटिलेटर पर थे। ये मरीज पहले से ही गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे।

कर्नाटक के चामराजनगर जिला अस्पताल में 24 घंटे के भीतर 24 मरीजों की मौत हो गई है। इनमें 23 कोरोना संक्रमित और एक दूसरी बीमारी से पीड़ित मरीज शामिल हैं। बताया जा रहा है कि मौतें ऑक्सीजन की कमी और दूसरी वजहों से हुई हैं, लेकिन जिला प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी से इनकार किया है।

चामराजनगर के डिप्टी कमिश्नर एमआर रवि ने द हिंदू से बातचीत में कहा- जिन मरीजों की मौत हुई है, वे सभी वेंटिलेटर पर थे। ये मरीज पहले से ही गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे। ऐसे में जरूरी नहीं कि ऑक्सीजन की कमी से ये मौतें हुईं। हालांकि, सच ये है कि अब तो मैसूर में भी ऑक्सीजन जुटाना मुश्किल हो रहा है।

चामराजनगर डिस्ट्रिक्ट इंचार्ज मिनिस्टर एस सुरेश कुमार ने मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल में ऑक्सीजन सप्लाई की कमी के मामले में दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। IAS ऑफिसर शिवयोगी कलासडा को मामले की जांच सौंपी गई है। उन्हें 3 दिन के अंदर रिपोर्ट सौंपनी है।

चामराजनगर में लगातार ऑक्सीजन सप्लाई मुश्किल
उन्होंने कहा कि सप्लायर्स अभी मैसूर की जरूरत की ऑक्सीजन ही नहीं पूरी कर पा रहे हैं। ऐसे में उनके लिए लगातार चामराजनगर के लिए सप्लाई करना मुश्किल हो रहा है। एमआर रवि ने कहा कि वे खुद ऑक्सीजन की स्थिति पर नजर रख रहे हैं और रविवार रात ही उन्होंने अस्पताल को 60 सिलेंडर मुहैया करवाए हैं।

See More

Latest Photos