कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में गईं पूर्व केंद्रीय मंत्री कृष्णा तीरथ ने घर वापसी कर ली है। उन्होंने शुक्रवार दोपहर दोबारा पुरानी पार्टी कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। पिछले ने दिनों इस तरह की खबरें में मीडिया में आई थी कि कृष्णा तीरथ का भाजपा से मोहभंग हो चुका है और वो कभी भी कांग्रेस में वापसी कर सकती हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार दोपहर कृष्णा तीरथ ने कांग्रेस कार्यालय में दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अभिषेक मनु सिंघवी की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण ली। 

इतना ही नहीं, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने भी पिछले दिनों इस तरह का इशारा किया था। यहां पर बता दें कि कृष्णा तीरथ  यूपीए सरकार में बाल विकास मंत्री रह चुकी हैं। कृष्णा तीरथ कभी कांग्रेस के दलित चेहरों में से एक हुआ करती थीं।

2014 के लोकसभा चुनाव में कृष्णा तीरथ को कांग्रेस ने दिल्ली की उत्तर पश्चिम सीट से लोकसभा उम्मीदवार बनाया था, लेकिन वे भाजपा उम्मीदवार उदित राज से पराजित हो गईं थी। इतना ही नहीं, भाजपा में शामिल होने के बाद दिल्ली विधानसभा चुनाव-2015  में भाजपा शामिल होने के बाद पटेल नगर से विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन आम आदमी पार्टी के हजारी लाल चौहान से हार मिली थी। यहां पर बता दें कि यूपीए कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री रहीं कृष्णा तीरथ ने जनवरी 2015 में कांग्रेस को छोड़ दिया और भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गईं थीं।