News Flash: चुनाव प्रचार के लिए रायबरेली और अमेठी के दौरे पर गये कृषि मंत्री रविंद्र चौबे को आया अटैक.[प]   ||   भारत 40 साल बाद सर्वाधिक मुस्लिम आबादी वाला देश होगा .[सीमा]  ||  

9वीं कक्षा में पढ़ाई करता है जम्मू में ग्रेनेड फेंकने वाला।..[मुकुन्द]

08 Mar 2019 08:00pm | MUKUND

 

जम्मू में एक बस स्टैंड पर कथित रूप से हथगोला फेंकने वाले किशोर की आयु 16 वर्ष से कम है। इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई थी। उसने पूछताछ कर्ताओं को बताया कि हिज्बुल मुजाहिदीन के एक आतंकवादी ने उसे ऐसा करने के लिये 50 हजार रुपये दिये थे। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है। इससे यह संकेत मिलता है कि आतंकवादी समूहों ने जम्मू-कश्मीर में लोगों के बीच खौफ पैदा करने के लिये फिर से कम उम्र के लड़कों का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। 

Grenade explosion at Jammu bus stand 18 injured say police

इसी महीने की 12 तारीख को 16 साल के होने जा रहे इस किशोर को बृहस्पतिवार को बस स्टैंड पर हथगोला फेंकने के बाद भागते समय पकड़ लिया गया था। इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई और 31 लोग घायल हैं। अधिकारियों ने कहा कि पूछताछ के दौरान किशोर ने पुलिस को बताया कि हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी ने उसे हथगोला फेंकने के लिये 50 हजार रुपये दिये थे।

अधिकारियों ने कहा कि उसके आधार कार्ड और स्कूल रिकॉर्ड समेत पहचान से जुड़े अन्य दस्तावेजों में उसकी जन्मतिथि 12 मार्च 2003 बताई गई है। जांचकर्ताओं के अनुसार, कुलगाम जिले के स्वघोषित हिज्बुल मुजाहिदीन प्रमुख फैयाज ने जम्मू में किसी भी भीड़भाड़ वाली जगह पर हथगोला फेंकने का काम संगठन के भूमिगत कार्यकर्ता मुजम्मिल को दिया था। मुजम्मिल ने इससे इनकार कर दिया। उसने हथगोला फेंकने का काम "छोटू" (सांकेतिक नाम) को देने का निर्देश दिया। किशोर अपने तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ा है। वह नौवीं कक्षा में पढ़ता है तथा उसके पिता पेंटर हैं।


ताजा समाचार



  • Follow us:
.