नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) देश भर में नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NCMC) को कार्यान्वयन करने के कार्यक्रम के लिए शहरी विकास मंत्रालय (MoUD) और केंद्र सरकार के साथ काम कर रहा है। इस साल मार्च में वन नेशन, वन कार्ड फॉर ट्रांसपोर्ट मोबिलिटी को लॉन्च किया गया था। ये बैंक से जारी किए गए डेबिट, क्रेडिट, प्रीपेड कार्ड हैं। ग्राहक इस अकेले कार्ड से मेट्रो, बस, उपनगरीय रेलवे, टोल, पार्किंग, स्मार्ट सिटी और रिटेल सहित सभी क्षेत्रों में भुगतान कर सकते हैं।



रूपे कॉन्टैक्टलेस कार्ड: रूपे कॉन्टैक्टलेस कार्ड (RuPay Contactless) सभी भुगतानों के लिए एक अकेला कार्ड है। इस कार्ड का उपयोग बस, मेट्रो, टैक्सी, टोल, पार्किंग, छोटी रिटेल खरीदारी के भुगतान के लिए किया जा सकता है।

रूपे कॉन्टैक्टलेस कार्ड के उद्देश्य:-

1. कम मूल्य के भुगतान को इलेक्ट्रॉनिक भुगतान के दायरे में लाकर एक सिस्टम प्रदान करना।

2. एक ऐसा कार्ड जो भारतीय ग्राहकों के साथ-साथ भारतीय बैंकों और व्यापारियों को भी ध्यान में रखकर काम करता है।

3. भारत में ग्राहकों को कैश लेनदेन से इलेक्ट्रॉनिक लेनदेन की ओर ले जाने के लिए प्रेरित करना।

रूपे कॉन्टैक्टलेस कार्ड की मुख्य विशेषताएं:-

लेनदेन के प्रकार: इस कार्ड से ऑनलाइन (कॉन्टैक्ट और कॉन्टैक्टलेस) और ऑफलाइन (कॉन्टैक्टलेस) लेनदेन की जा सकती हैं।

कार्ड का उपयोग: इस अकेले कार्ड का उपयोग एटीएम, मर्चेंट इंस्टालेशन और ऑनलाइन भुगतान के अलावा कॉन्टैक्टलेस पेमेंट्स के अन्य क्षेत्रों जैसे टोल, पार्किंग और अन्य छोटे मूल्य के भुगतान किए जा सकते हैं।

कार्ड जारी करना: आरबीआई से अधिकृत कोई भी मेंबर कार्ड जारी कर सकता है। इसे जारी करने वाले के ऑप्शन के अनुसार डेबिट, प्रीपेड, क्रेडिट कार्ड के प्लेटफॉर्म पर जारी किया जा सकता है। 

कॉन्टैक्टलेस कार्ड की लागत: आरबीआई ने अनिवार्य किया है कि भारत में बैंकों द्वारा जारी किए गए सभी प्रभावी कार्ड ईएमवी हैं। इसलिए ग्राहक को एक संपर्क रहित कार्ड प्रदान करने की लागत केवल कम होगी।

मौजूदा तकनीक के साथ तालमेल: रूपे कॉन्टैक्टलेस के स्पेसिफिकेशन का उपयोग मौजूदा तकनीक के साथ किया जा सकता है जो पहले ऑपरेटर के जरिए उपयोग किया जा रहा है।