कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर हमले के बाद राजनीतिक बवाल मच गया है। बुधवार को राहुल गांधी ने ग्वालियर में कहा था कि शिवराज सिंह चौहान के भाई का कर्ज माफ हुआ है, जबकि शिवराज का ऐसा कहना है कि किसानों का कर्ज माफ नहीं किया गया। अब शिवराज सिंह चौहान ने उनके इस बयान को खारिज कर दिया है। शिवराज ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा है कि झूठ फैलाना बंद कीजिए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने ग्वालियर में कर्जमाफी की जो लिस्ट दिखाई है उसमें मेरे भाई रोहित चौहान का कर्ज माफ करने की बात कही गई थी, लेकिन सच कुछ और है। उन्होंने आगे कहा कि मेरे भाई ने तो कर्जमाफी के लिए आवेदन तक नहीं भरा था। फिर कमलनाथ जी ने इतनी कृपा क्यों की।

गौरतलब है कि बुधवार को राहुल गांधी ने भिंड, मुरैना और ग्वालियर में जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा था कि 'मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया है कि राज्य में किसानों का कर्ज माफ हुआ है। उनमें चौहान के भाई रोहित सिंह और चाचा के लड़के भी शामिल हैं।'इससे पहले शिवराज सिंह ने कमलनाथ सरकार पर किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के पदाधिकारियों ने उन्हें कर्जमाफी की जो सूची सौंपी है वह झूठ का पुलिंदा है। कर्ज माफ तब होगा, जब सरकार के खजाने से पैसा दिया जाए, कर्ज 48 हजार करोड़ रुपए का है और सरकार ने केवल 1300 करोड़ रुपए बैंकों को दिए हैं। राहुल गांधी ने किसानों को धोखा दिया।