Breaking:


Generic placeholder image

बृजमोहन ने रायपुर पुलिस को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम,कहा भाजपाइयों पर हमला करने वाले कांग्रेसी गुंडों पर कार्रवाई करो नहीं तो हम करेंगे उग्र आंदोलन।

रायपुर दक्षिण विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने रायपुर पुलिस को चेतावनी देते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर हमला कर उन्हें घायल करने वाले कांग्रेसियों पर अगर 24 घंटे की भीतर कार्रवाई नहीं हुई तो भाजपा उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगी। साथ ही कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं पर जो झूठे मुकदमे दर्ज किए गए हैं उन्हें तत्काल वापस लिया जाए। उन्होंने यह बात पुलिस अधीक्षक कार्यालय में ज्ञापन देने के दौरान कही।


भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर में कल हुए कांग्रेसी हमले के बाद प्रतिक्रिया स्वरूप अपने बचाव में पहुंचे भाजपाइयों पर पुलिस के संरक्षण में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पत्थर,इट,अंडे,ठंडे से हमला कर दिया था। बावजूद पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर ही अपराध दर्ज कर दिया है। इसी मुद्दे पर आज विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, सांसद सुनील सोनी, पूर्व मंत्री राजेश मूणत, भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव, पूर्व विधायक श्रीचंद्र सुंदरानी,छगन,मुंदड़ा,केदारनाथ गुप्ता,गोपी साहू,किशोर महानंद, सहित वरिष्ठ भाजपा नेताओं के नेतृत्व में सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने एसपी ऑफिस पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर अपराध दर्ज करने तथा पुलिस के पक्षपात रहोगे पर आपत्ति दर्ज करते हुए ज्ञापन सौंपा।


इस संबंध में बृजमोहन अग्रवाल ने बताया कि एसपी की गैर मौजूदगी में एडिशनल एसपी से मिलकर हमने कहा है कि 24 घंटे के अंदर बीजेपी कार्यालय में हंगामा करने वाले, बीजेपी कार्यकर्ताओं का सर फोड़ने वाले, हाथ पैर तोड़ने वाले कांग्रेस के गुंडों के खिलाफ कार्रवाई करें।

उन्होंने कहा कि इन कांग्रेसियों के बीच में ऐसे भी लोग थे जिन पर 307 का मुकदमा है और वह फरार हैं। कांग्रेस के ऐसे 100 लोग हैं जिन्होंने यह प्राधिकृत किया है पुलिस से हम ने मांग की है कि सभी पर अपराध दर्ज किया जाए। साथ ही उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं पर दर्ज किए झूठे मुकदमे भी वापस लेने की मांग रखी है।


बृजमोहन ने कहा कि छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार और उसकी पुलिस तानाशाह हो गई है। भाजपा कार्यकर्ताओं  के साथ निरंतर अत्याचार अन्याय कर रही है। सभी ने देखा है कि बीजेपी कार्यालय में पहले कांग्रेस के कार्यकर्ता पुलिस के संरक्षण में जाते हैं उनके हाथों में कांग्रेस के झंडे के साथ बड़े-बड़े डंडे होते हैं। 

और भाजपा कार्यालय में कालिख फेंक कर कार्यकर्ताओं पर डंडे से हमले करते हैं।

 उसके बाद भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ जुर्म दर्ज न करने की वजह से विरोध करने भाजपा कार्यकर्ता जाते हैं तो कांग्रेसियों द्वारा इस नवरात्रि पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर अंडे फेंके जाते हैं। पत्थर चलाए जाते हैं। बावजूद भाजपा कार्यकर्ताओं पर गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जाता है। उन्होंने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता भी करारा जवाब देने में सक्षम है।

हमने पुलिस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है।  

साथ ही उन्होंने मौदहापारा थाने में भी बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ गाली गलौज की घटना हुई है। जिस पर भी विरोध दर्ज करते हुए वहां के पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई करने की बात कही है।

Related News

thumb

पूर्व मुख्यमंत्री पहुंचे अमरकंटक, कार्यकर्ताओं और लाड़ली बहनों ने कि...

कार्यकर्ताओं और लाड़ली बहनों ने किया भव्य स्वागत


thumb

दिल्ली पहुंचे सीएम डॉ. मोहन, कैबिनेट को लेकर जल्द हो सकता है फैसला

दिल्ली पहुंचे सीएम डॉ. मोहन, कैबिनेट को लेकर जल्द हो सकता है फैसला


thumb

कांग्रेस के कई नेताओं को मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न...

कांग्रेस के कई नेताओं को मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न्योता


thumb

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के समर्थकों पर कसा शिकंजा, कर्मचारियों से अ...

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के समर्थकों पर कसा शिकंजा